सुभाष गंजीर हुए गिरफ्तार, एंटी करप्शन की कार्यवाही

  • मंत्री के थे करीबी, पर छापेमारी के बाद सर से हट गया हाथ

दंतेवाडा. आय से अधिक संपत्ति मामले में एंटी करप्शन विभाग ने जिले के पूर्व जिला शिक्षा अधिकारी सुभाष गंजीर को रविवार की शाम गिरफ्तार किया है. गिरफ़्तारी के बाद गंजीर को न्यायालय में पेश किया गया, जहाँ से न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया है. मालूम हो की गंजीर के यहाँ विगत वर्ष आय से अधिक संपत्ति मामले में जगदलपुर सहित उनके अन्य ठिकानों में छापे पड़े थे, जिसके बाद से ही उनकी गृहदशा बिगड़ी हुई है.

विगत वर्ष 17 फरवरी को गंजीर के दंतेवाडा स्थित कार्यालय और सरकारी आवास में एक साथ एसीबी का छापा पड़ा था. इसी क्रम में जगदलपुर स्थित आवास में छापेमारी की कार्यवाही में लगभग साढ़े 8 लाख रुपये की बरामदगी हुई थी. इस दौरान उनके निवास से कई तोला सोना सहित जमीन के कागजात भी बरामद की गयी थी. इसके बाद एसीबी का उनके गृहग्राम धनपूंजी स्थित मकान में भी छापा पड़ा था, जहाँ से भी कई दस्तावेज़ प्राप्त हुए थे.

मंत्री के थे करीबी, पर छापेमारी के बाद सर से हट गया हाथ

इन कार्यवाहियों के पहले तक गंजीर, छत्तीसगढ़ के स्कूली शिक्षा मंत्री केदार कश्यप के करीबी माने जाते थे, लेकिन विगत वर्ष कार्यवाहियों के पश्चात से कश्यप ने अपना हाथ गंजीर के सर से हटा लेने की बात भी काफी समय तक शहर में चर्चा का विषय बना रहा. इस बात का भी जिक्र दंतेवाड़ा में आज भी किया जाता है कि मंत्री का हाथ गंजीर के सर पर होने के चलते वे कामयाबी की सीढ़ियों को बहुत ही कम समय में चढ़ते चले गए, जबकि तत्कालीन समय में उनसे वरिष्ठ कई अन्य लोग मौजूद थे, लेकिन उनका पदोन्नत होना लगभग असंभव सा हो गया था, वहीँ गंजीर ने इसका फायदा उठा लिया था.

सुभाष गंजीर
सुभाष गंजीर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *