दंतेवाड़ा छोड़ बस्तर के 12 सीटों में कांग्रेस का कब्जा

जगदलपुर,(शेख इस्लामुद्दीन ) बस्तर संभाग के 12 विधानसभा क्षेत्र की मतगणना पश्चात 11 में कांग्रेस  ने लगभग जीत हासिल कर ली है वहीं एकमात्र दंतेवाड़ा में भाजपा और कांगे्रस के बीच जबरदस्त मुकाबला जारी है यहां समाचार लिखे जाने तक चौदहवें राउंड की गिनती के बाद भीजेपी के भीमा मंडावी 3112 मतों से आगे चल रहें हैं। वहीं कोण्डागांव विधानसभा के सत्रहवें राउंड पूर्ण होने के बाद कांगे्रस के मोहन मरकाम 766 मतों आगे चल रहे हैं जबकि एक चक्र के परिणाम आना शेष है।
जगदलपुर में सुबह 8 बजे से कड़ी सुरक्षा के बीच स्थानीय धरमपुरा स्थित पालिटेक्निक कालेज मतगणना केंद्र में मतगणना प्रारंभ हुई। प्रत्येक चक्र की मतगणना की जानकारी लिखित रूप में घोषित की गयी। बस्तर संभाग की 12 विधानसभा सीटों में से 10 विधानसभा सीटों पर कांग्रेस जीती व दो विधानसभा क्षेत्र दन्तेवाड़ा व कोंडागांव में भाजपा और कांग्रेस के प्रत्याशी के बीच समाचार लिखे जाने तक कड़ा संघर्ष चल रहा है।

बस्तर संभाग के दोनों कद्दावर मंत्री महेश गागड़ा बीजापुर विधानसभा के कांग्रेस प्रत्याशी विक्रम सिंह मंडावी से 20 हजार से अधिक मतों से हार गये हैं और केदार कश्यप नारायणपुर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी चंदन कश्यप से 2439 वोट से हार गये हैं। कोंटा विधानसभा क्षेत्र के विधायक कवासी लखमा ने पांचवीं बार जीत दर्ज करते हुए अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा के प्रत्याशी धनीराम बारसे को 6659 वोटों से पराजित किया। बस्तर विधानसभा क्षेत्र के वर्तमान कांग्रेसी विधायक लखेश्वर बघेल ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा के डॉ सुभाउ कश्यप को 32619 मतों से पराजित किया। जगदलपुर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी रेखचंद जैन ने वर्तमान विधायक संतोष बाफना को 27277 मतों के अंतर से पराजित किया। चित्रकोट विधानसभा से वर्तमान विधायक दीपक बैज ने भाजपा के लच्छुराम कश्यप को 17770 वोट से पराजित किया है। पूर्व मंत्री लता उसेण्डी कोंडागांव विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी मोहन मरकाम से 17 वें राउंड के परिणाम के बाद लगभग 766 से वोट से पिछड़ रही हैं। वहीं एक चक्र का परिणाम आना अभी शेष है। अंतागढ़ विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी अनुप नाग भाजपा के विक्रम उसेण्डी से 12217 मतों से आगे चल रहे हैं। कांकेर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के प्रत्याशी शिशुपाल सोरी अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भारतीय जनता पार्टी के हीरा मरकाम से 13581 मतों से आगे चल रहे हैं। भानुप्रतापपुर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेेस प्रत्याशी मनोज मंडावी अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा के देवलाल द्गुग्गा से 21400 वोटों की बढ़त बनाये हुये हैं। केशकाल विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस के प्रत्याशी व वर्तमान विधायक संतराम नेताम अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा के हरीशंकर नेताम से 16 हजार से अधिक मतों की बढ़त बनाये हुये हैं। दंतेवाड़ा में कांग्रेस की वर्तमान विधायक देवती कर्मा भाजपा के भीमा मंडावी से 12वें राऊड के बाद 1927 मतों से पिछड़ रही हैं।

कांग्रेस की इस ऐतिहासिक जीत से कार्यकर्ताओं में जोश है। बस्तर जिला के तीनों विधानसभा के कार्यकर्ता मतगणना स्थल पॉलिटेक्निक कालेज धरमपुरा के पास दोपहर से ही काफी संख्या में एकत्रित होकर रंग-गुलाल खेलते हुए ढोल-नगाड़ों की धुन पर नाच रहे थे। कांग्रेस के तीनों प्रत्याशी मतगणना स्थल पर मतगणना आरंभ होने से लेकर जीत का प्रमाणपत्र प्राप्त करने तक डटे रहे। वहीं भाजपा का एक भी प्रत्याशी मतगणना स्थल पर नहीं पहुंचा और मतगणना एजेंट अपना दायित्व पूरा कर धीरे से खिसक लिये

आज सुबह से ही भाजपा कार्यालय में संन्नाटा पसरा रहा और कांगे्रस भवन में उत्साहित कार्यकर्ता सुबह से ही नजर आ रहे थे। चुनाव में कांग्रेस को जीत मिलने को लेकर कांग्रेसियों में पहले से ही उम्मीद बनी हुई थी जो मतगणना के बाद सही साबित हुई। देर रात तक कांग्रेस भवन में जश्र का माहौल देखा गया। जमकर आतिशबाजी भी हुई.                                                               बस्तर विधानसभा क्षेत्र के विधायक लखेश्वर बघेल व चित्रकोट विधानसभा क्षेत्र के विधायक दीपक बैज ने मतगणना केंद्र से बाहर आते ही पत्रकारों से चर्चा में अपनी जीत का श्रेय कार्यकर्ताओं को देते हुए कहा कि कार्यकर्ताओं ने जिस तरह से परिश्रम किया था उन्हें 40 हजार मतों के अंतर से जीत की आशा थी। किन्तु 32 हजार से अधिक मतों से जीत मिली। पूरे प्रदेश में 65+ का लक्ष्य भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दिया था वह कांगे्रस ने प्राप्त किया। मंत्री मंडल में स्थान मिलने के सवाल पर उन्होंने कहा कि यह कोर कमेटी तय करेगी। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि बस्तर की जनता के अनुरूप कार्य करने के लिए सक्षम पद अवश्य मिलना चाहिए। शराब बंदी के विषय में उन्होंने कहा कि पाचवीं अनुसूची क्षेत्र छोडक़र पूरे प्रदेश में शराब बंदी लागू की जायेगी। भाजपा के हारने के कारण पर उन्होंने कहा कि भाजपा की वादाखिलाफी ने उसे हराया। अपनी दूसरी बार जीत के संबंध में उन्होंने कहा कि पिछले पांच वर्ष जनता के बीच रहकर कार्य करने का आशीर्वाद मिला है। उन्होंने क्षेत्र की जनता को उनके प्रति फिर से विश्वास जताने के लिए धन्यवाद दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *