निजी मोबाइल कंपनी को मुफ्त में सरकार दे रही सरकारी जमीन – नवनीत

जगदलपुर. संचार क्रांति के नाम पर एक निजी कंपनी को मोबाइल टावर लगाने मुफ्त में सरकारी जमीन आबंटित किये जाने का आरोप छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के प्रदेश संगठन मंत्री नवनीत चाँद ने लगाया है जिसमें ग्राम पंचायतों से अनापत्ति नहीं लिए जाने और आगामी चुनाव को इससे प्रभावित होने की बात भी कही है.

चाँद ने कहा है कि चुनावी वर्ष होने के चलते स्काई योजना के नाम पर सरकार की उपक्रम चिप्स द्वारा सभी पंचायतों में निजी कंपनी जिओ का मोबाइल टावर लगवाया जा रहा है, जिसके लिए सरकारी जमीन का आबंटन व इसमें पटवारियों के माध्यम से व जिओ कंपनी के लोग सर्वे कर रहे हैं, जो की राजस्व नियम व पंचायत अधिनियम का सरासर उल्लंघन है, इसके लिए अधिकारियों पर राज्य स्तर से दबाव भी बनाया जा रहा है. इसके अलावा पंचायतों की सरकार जमीन को उक्त कंपनी के माध्यम से टावर लगाने के नाम पर दस वर्ष के सबसिडी में अनधिकृत रूप से आबंटित कर दिया जा रहा है, जिससे साफ़ दिखाई पड़ रहा है कि यह पूरा कार्य उक्त कंपनी को फायदा पहुँचाने की नियत से किया जा रहा है.

नवनीत का कहना था की भाजपा द्वारा 45 लाख रुपये के मोबाइल नहीं वरन इतने ही रुपयों का रिश्वत बांटा जा रहा है, जिससे आगामी चुनाव में पुनः भाजपा अपना सरकार बना सके. इन सब तरकीबों से यह साफ़ नज़र आ रहा है की जनता को ऐसे पैंतरे अपना कर लुभाने व अपने पक्ष में करने का प्रयास किया जा रहा है, जो की चुनाव आयोग के नियमों का उल्लंघन करने जैसा भी है. साथ ही साथ निजी कंपनी को फायदा पहुँचाने वाली सभी योजनाओं का पार्टी ने विरोध किया है.

इधर कंपनी के आरऍफ़ इंजिनियर ललित यादव ने इस सम्बन्ध में बताया कि चिप्स के मुख्य कार्यालय से डाटा भेजा गया है जिसे पटवारियों के माध्यम से जानकारी लेने के पश्चात जमीन का चयन किया जा रहा है. मुफ्त में जमीन आबंटित करने की बात पर यादव ने कहा कि इस सम्बन्ध में उन्हें कोई जानकारी नहीं है. हालाँकि, उन्होंने कहा कि बस्तर में लगभग 41 टावर लगाने की योजना है.

कंपनी के एक अन्य अधिकारी प्रवीण शुक्ला से अधिक जानकारी लेने की कोशिश की गयी परन्तु किसी अन्य कार्य में व्यस्त होने का हवाला दिया गया, पंद्रह मिनट पश्चात लगाने की बात कहते हुए उन्होंने बात को रफादफा कर दिया. हालाँकि, आधे घंटे के इंतज़ार व खबर प्रकाशित किये जाने तक उनका फ़ोन दोबारा नहीं आया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *