जवानों ने ग्रामीण पर किया है प्राणघातक हमला – सोनी सोढ़ी

सुकमा (पुष्पा, नि.प्र.). ग्राम कोकाड़पाल अंतर्गत गोरखा क्षेत्र में रहने वाले एक युवक ने जवानों पर गंभीर आरोप लगाते हुये कहा है कि उन्होंने उसका गाल रेत दिया. इसी अवस्था में पीड़ित सहित काफी संख्या में ग्रामीण सोनी सोढ़ी के पास गये थे.

सुनिल मुचाकी (पीड़ित) ने एक प्रेसवार्ता के दौरान बताया कि विगत 27 जनवरी 2017 को कुछ जवान गांव में गश्त के लिए आये हुए थे. इसी दौरान 4 ग्रामीण तालाब के पास बैठे थे जिसमें से मड़ावी हदा, मड़ावी लच्छु और मड़ावी हड़मा स्नान कर रहे थे. तभी उक्त फोर्स के जवान वहां आये व पकड़कर अपने साथ कोण्टा थाने ले गये. जवानों में समर्पित माओवादी संतोष व मुद्दे भी थे. दो दिन तक हमें थाने में रखकर मारपीट करने के पश्चात, जान से मारने की भी रूपरेखा जवानों द्वारा तैयार की गई थी और हमें जबरन माओवादी होने की बात भी कबूल करने को कहा गया था. पीड़ित ने बताया कि जब उसने ऐसा करने से इंकार किया तो एक जवान ने उसका गाल, धारदार हथियार से रेत दिया. घायल व बेहोशी की अवस्था में जब उसे होश आया तो वह भद्राचलम अस्पताल में था और उसके सामने वही जवान खड़े हुये थे, किसी तरह वह अस्पताल से भाग कर आया, व सोनी सोढ़ी से संपर्क किया.

इधर आम आदमी पार्टी की नेत्री सोनी सोढ़ी ने बताया कि पीड़ित ने उसे पूरी जानकारी बताई है. फोर्स द्वारा निरंतर ऐसे फर्जी मुठभेड़ किए जा रहे हैं. जवानों द्वारा निरंतर ग्रामीणों को डराया धमकाया जा रहा है, सुनिल के साथ जो घटना हुई है वह निंदनीय है. जिस गांव में फोर्स उत्पात मचा रही है उसके पीछे की कहानी गांव वालों को डराकर और दबाव बनाकर गवाहों को अपने पक्ष में करना है. वहीं गवाह बुरी तरह से परेशान हैं. इस मामले में हाईकोर्ट के आदेश पर जांच हो रही है.

प्रेस वार्ता
प्रेस वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *