बासागुड़ा में लौटी रौनक, अब बाजार भी आने लगे हैं ग्रामीण !

आवापल्ली से तर्रेम तक सड़क का भरपूर लाभ ले रहे है ग्रामीण

बीजापुर (पुष्पा, नि. प्र.). जिला मुख्यालय के उसूर ब्लॉक के बासागुड़ा क्षेत्र में बनी पक्की सड़क का लाभ अब ग्रामीणों को मिल रहा है. कई वर्षों से कच्ची सड़क को आवागमन का जरिया बनाये इन ग्रामीणों को अब परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ रहा है. सड़क निर्माण से बासागुडा बाज़ार में अब आवागमन बढ़ गया है, साथ ही साथ दैनिक भोगियों की आमदनी में भी वृद्धि हुई है.

बासागुड़ा ग्राम की सरपंच श्रीमती मल्लिका ताज ने निचोड़ को बताया की मैं इस क्षेत्र में लगभग 30 वर्ष से निवासरत हूँ. सलवा जुडूम के बाद यह क्षेत्र वीराने में तब्दील हो गया था, जिसके चलते कई परिवार यहाँ से पलायन कर गए जिनमे से मात्र 61 ऐसे परिवार थे जो कई कठिन परिस्थितियों को झेलते हुए भी क्षेत्र को छोड़ कर नहीं गए और यहाँ अपना जीवन यापन करने लगे. वर्ष 2005 के बाद अब 2016 में बासागुड़ा से लगे पेसेपारा, लिंगागिरी, धरमपुर, पाकेला, कोत्तागुडा, सार्केगुड़ा, तर्रेम, बेदरे आदि ग्राम पूरी तरह से वीरान हो गए. किन्तु आवापल्ली से तर्रेम के मध्य पक्की सड़क बनने से बासागुड़ा बाज़ार में लोगों की रौनक बढ़ गयी है. पहुंचविहीन क्षेत्रों से भी लोग अब यहाँ खरीददारी करने आते हैं, जिसमे से अधिकतर लोग साइकिल से आवागमन करते हैं. सड़क निर्माण से क्षेत्र के बसाहट में भी वृद्धि हुई है.

विदित हो की जिला पुलिस बल और सीआरपीएफ कोबरा 204 बटालियन के सयुक्त तत्वाधान से आवापल्ली से तर्रेम के मध्य पक्की सड़क का निर्माण सफल हो पाया है. अभी निर्माण कार्य जारी है और यह सड़क ग्राम जगरगुंडा तक बनायीं जाएगी. जवानों के द्वारा दिन-रात निगरानी कर क्षेत्र में सड़क, पुल-पुलिया निर्माण किया गया जिसके कारण क्षेत्र के ग्रामीणों के लिए यह सड़क जीवनदायिनी साबित हो रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *