कम्पोजिट बिल्डिंग में डेढ़ साल बाद भी नहीं बना लिफ्ट और रेम्प…

जगदलपुर. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतिन गडकरी ने 5 साल पहले कलेक्टोरेट के कम्पोजिट बिल्डिंग का भूमिपूजन करते हुए इसके निर्माण में गुणवत्ता बरतने की बात कहते कहा था कि इस भवन के बनने से एक छत के नीचे सारे दफ्तर होंगे और यह गुड गवर्नेस की मिसाल बनेगा, लेकिन आज यह स्थिति यह है कि आज यह भवन लोनिवि विभाग की लापरवाही की मिसाल बन कर रह गया है.

कम्पोजिट भवन के लोकार्पण हुए डेढ़ साल बीत चुके है, लेकिन भवन की लिफ्ट अभी तक नहीं बनी है. हाल तो यह है कि यहां के अधिकारियों को यह याद भी नहीं है कि यहां पर लिफ्ट का निर्माण किया जाना था. वह भी तब जब विभाग ने इस बिल्डिंग का निर्माण अपने चहेते ठेकेदार अशोका इंजीनियंर्सएण्ड कांट्रेक्टर्स से करवाया था. विभाग के आला अधिकारियों के अनुसार भवन के निर्माण के दौरान इसकी स्वीकृत राशि खत्म हो गई थी. इस वजह से लिफ्ट नहीं लगाया जा सका. यहीं नहीं इस भवन में दिव्यांगों के लिए रेम्प बनने थे, वह भी पैसों की कमी की वजह से नहीं बन पाये. इस भवन का ठेका 10 करोड़ 49 लाख 89 हजार रूपये में मेसर्स अशोका इंजीनियर्स एण्ड कांट्रेक्टर्स ने लिया था. ठेकेदार ने निर्माण करने के दौरान भवन में लिफ्ट नहीं लगाई तथा भवन का अधूरा ही छोड़ दिया. यदि राशि की कमी हुई तो टे्रंडर को रिवाईज्ड भी नहीं किया. भवन के दूसरे व तीसरे फ्लोर पर ज्यादातर विभागों के कार्यालय हैं. ऐसे में रोज आने वाले अधिकारी-कर्मचारी सहित अपने कामों के लिए दफतर पहुंच रहे लोगों को भी ऊपरी फ्लोर तक आने वाले दिव्यांगो को उठानी पड़ रही है. अभी इस भवन को बने डेढ़़ साल ही हुआ है, लेकिन भवन के सामने के हिस्से की एसीपी उखड़ गयी है. यहीं नहीं पहली बरसात में ही भवन के तीसरे फ्लोर में पानी रिसने की शिकायत सामने आ चुकी है. खादी ग्रामउद्योग को अलाट हुए पूरे कमरे में बरसात का पानी रिसने लगा था. इससे यहां रखे हजारों रूपये के सामान व दस्तावेज खराब हो गये थे.

क्या कहते हैं लोनिवि के ईई ?

लोनिवि के ईई देवलाल टेकाम का कहना है कि भवन निर्माण के दौरान राशि खत्म होने की वजह से लिफ्ट नहीं लगाई गई थी, चूंकि यह निर्माण पूरा हो चुका है, इसलिए अब इसमें रिवाईज्ड टेंडर नहीं किया जा सकता. किसी दूसरे मद से राशि लेकर लिफ्ट लगाने की कोशिश करेंगे. वहीं कलेक्टर अमित कटारिया का कहना है कि फंड की कमी की वजह से लिफ्ट लगाने की बात सामने आ रही है. लिफ्ट को जल्द शुरू करने की लिए संबंधित विभाग को निर्देशित किया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *